सोयाबीन की खेती | Soybean Farming in Hindi

Agri Business

Soybean Farming in Hindi. क्या आप अपने छोटे से खेत या घर के पीछे खाली जगह में सोयाबीन की खेती करना चाहते हैं? इस लेख में सोयाबीन की खेती के बारे में मार्गदर्शन किया गया है |

सोयाबीन को लोकप्रिय रूप से “गोल्डन बीन” या “चमत्कार बीन” कहा जाता है। वर्तमान में, संयुक्त राज्य अमेरिका सोयाबीन का सबसे बड़ा उत्पादक है, इसके बाद ब्राजील और अर्जेंटीना हैं। संयुक्त राज्य अमेरिका में, इलिनोइस, मिनेसोटा, आयोवा जैसे राज्य सबसे अधिक सोयाबीन उगाते हैं।

सोयाबीन की खेती का व्यवसाय शुरू करने के लिए 10 चरण 

सोयाबीन की किस्मों का चुनाव |

उपयोग की दृष्टि से सोयाबीन की कई किस्में हैं। सोयाबीन का उपयोग दूध, आटा, तेल बनाने के साथ-साथ खाने के लिए भी किया जाता है। आपको यह निर्णय करना होगा कि आप किस प्रकार के सोयाबीन का उत्पादन करने जा रहे हैं। सोयाबीन मोटे तौर पर चार प्रकार की होती है। यह गर्मी के अनुसार समूह 00, समूह 0, समूह 1 और समूह 2 हैं।

सोयाबीन की खेती व्यवसाय योजना बनाएं

यदि आप लाभ के लिए सोयाबीन की खेती शुरू करना चाह रहे हैं, तो आपके पास एक बिजनेस प्लान होना जरूरी है। यह न केवल आपको सफलता के लिए भविष्य का रोडमैप प्रदान करता है बल्कि आपको अपनी परियोजना के लिए धन की आवश्यकता होने पर धन प्राप्त करने में भी मदद करता है।

लाइसेंस और परमिट

व्यावसायिक खेती के लिए, आपको विशिष्ट लाइसेंस और परमिट की आवश्यकता हो सकती है। स्थानीय अधिकारियों से बात करें और उन लाइसेंसों को हासिल करें

व्यवसाय और व्यवसाय बीमा का पंजीकरण अन्य दो पहलू हैं जिन पर आपको ध्यान देने की आवश्यकता है यदि आप कानूनी रूप से अनुपालन सोयाबीन खेती व्यवसाय चलाने की योजना बना रहे हैं।

बीज का चयन

व्यावसायिक उत्पादन के लिए सोयाबीन की खेती करते समय, सही बीज चुनना अत्यंत महत्वपूर्ण है। सोयाबीन की खेती के प्रकार के आधार पर आपको बीज का चयन करना होगा।

यदि आप खाने के उद्देश्य से खेती कर रहे हैं तो हरी किस्म के बीजों का चयन करें।

पीला प्रकार यदि सोया दूध या आटा बनाने के लिए उत्पादन कर रहे है।

सूखे सोयाबीन के लिए काले बीज पसंद किए जाते हैं।

पढ़ें:  मशरूम की खेती का व्यवसाय कैसे शुरू करे 

मिट्टी का चयन

सोयाबीन की पैदावार 6.5 से अधिक pH मान वाली मिट्टी पर अधिक हो जाती है। सोयाबीन की खेती रेतीली नहीं बल्कि नम मिट्टी पर बेहतर प्रदर्शन करती है।

सोयाबीन की खेती शुरू करने के लिए कितनी जमीन चाहिए

भूमि की आवश्यकता काफी हद तक इस बात पर निर्भर करेगी कि आप कितना लाभ कमाना चाहते हैं। हालाँकि, सोयाबीन की खेती से अच्छी आय प्राप्त करने के लिए, आपको कम से कम एक एकड़ भूमि पर सोयाबीन की खेती करनी चाहिए।

सोयाबीन के बीज बोना

सोयाबीन की बुवाई का आदर्श समय सर्दियों के एक महीने बाद का है, स्वस्थ उपज के लिए आदर्श तापमान लगभग ५० एफ है। बीजों को मिट्टी में लगभग १.५ इंच गहराई में बोएं। बीच-बीच में करीब 3 इंच का गैप बनाए रखें। बीन्स को तब तक पानी दें जब तक वह नम न हो जाए। सावधान रहें कि अधिक पानी न डालें क्योंकि यह दरारें पैदा कर सकता है।

छायादार क्षेत्रों में सोयाबीन की खेती न करें। इस फसल को उगाने के लिए अच्छी मात्रा में धूप की जरूरत होती है।

खरगोशों से सावधान

खरगोशों को सोयाबीन के अंकुर बहुत पसंद होते हैं। यदि उन्हें खेती की भूमि में प्रवेश करने दिया गया तो वे फसल को नष्ट कर सकते हैं। खेत क्षेत्र को बाड़ से सुरक्षित रखें ताकि खरगोशों को दूर रखा जा सके।

खरपतवार को बढ़ने न दें

खरपतवार सोयाबीन के पौधों की वृद्धि को रोकते हैं। जब पौधे आकार में छोटे हों तो खेत को खरपतवार मुक्त रखने के उपाय करें। जब पौधे बड़े हो जाते हैं, तो आपको निराई करने की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि पौधे स्वयं की देखभाल कर सकते हैं।

सोया पौधों की कटाई

जब फली हरी और पूरी तरह से विकसित हो जाए तो सोयाबीन की तुड़ाई करें। फली का रंग पीला होने से पहले आपको कटाई करनी होगी। पौधे से पूरी फली काटने के बाद और एक कंटेनर में गर्म पानी के साथ लगभग 5 मिनट तक उबालें। उबली हुई फली को ठंडे पानी में और 5 मिनट के लिए ट्रीट करें। फली के ठंडा होने के बाद, उन्हें एक ताजे तौलिये में रख दें।

अब सोयाबीन को फली से निकालने का समय आ गया है। फली को दोनों सिरों से सावधानी से दबाएं और आप पाएंगे कि फलियां बाहर निकलने लगी हैं। अब आप बीन्स खा सकते हैं या भविष्य में उपयोग के लिए स्टोर कर सकते हैं।

FAQ:

सोयाबीन की खेती कितनी लाभदायक है?

जी हाँ, निस्संदेह सोयाबीन की खेती वर्तमान समय में एक आकर्षक व्यवसाय है। यह दुनिया भर में सबसे अधिक लाभदायक नकदी फसलों में से एक है।

आप प्रति एकड़ कितने सोयाबीन लगा सकते हैं?

यह वास्तव में उस वातावरण पर निर्भर करता है जहां आप सोयाबीन की बुवाई कर रहे हैं। हालांकि, कृषि विशेषज्ञों का सुझाव है कि किसानों के पास प्रति एकड़ 7.5- और 15-इंच की पंक्तियों में समान रूप से लगभग 100,000 खड़े पौधे होने चाहिए। और 30 इंच की पंक्तियों के लिए, यह लगभग 80,000-90,000 हो सकता है।

एक एकड़ सोयाबीन की बुआई में कितना खर्चा आता है?

बुआई  की लागत राज्य और देश के अनुसार अलग-अलग होगी। हालांकि, सोयाबीन के लिए प्रति एकड़ औसत लागत पिछले वर्ष 12000  से 15000 के बीच होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *